दोस्तों आज रक्षाबंधन का पवित्र त्योहार है। इस बार का रक्षाबंधन कुछ अलग है क्योंकि इस बार रक्षाबंधन दिन पूरी तरह भद्रा अशुभ मुहूर्तकाल से मुक्त है। जो बीते हुए कई सालों से रक्षाबंधन के दिन पर पड़ रहा था। लेकिन इस बार भद्रा अशुभ मुहूर्तकाल नहीं होने से आप कभी भी राखी बांध सकती है।

happy raksha bandhan

किसी भी शुभ कार्य में भद्रा अशुभ मुहूर्तकाल का विशेष ध्यान रखा जाता है। भद्रा में राखी नहीं बांधी जाती है क्योंकि भद्रा में राखी बांधना या कोई शुभ कार्य करना अशुभ माना जाता है। भद्रा सूर्य  देवता की पुत्री हैं और उनका स्वभाव क्रूर है। ब्रह्मा देवता ने कालगणना और पंचांग में भद्रा को विशेष स्थान दिया है। भद्रा में शुभ कार्य निषिद्ध माने जाते हैं। इस बार रक्षाबंधन के दिन दोपहर 1:30 से 15:00  बजे तक राहुकाल होगा। यह समय राखी बांधने के लिए के लिए अशुभ है।

रक्षा बंधन का पौराणिक महत्व

रक्षाबंधन हिन्दूओं का एक पवित्र त्यौहार है और यह त्यौहार भाई-बहन के पवित्र रिश्ता का प्रतिक है। इस दिन सभी बहनें अपने भाइयों की कलाई पर पवित्र राखी को बांधती हैं। रक्षा बंधन की उत्पत्ति की कथा सतयुग से जुड़ी हुई है।


एक समय जब इंद्र युद्ध में दानवों से पराजित होने लगे थे तो उनकी पत्नी इन्द्राणी ने एक रक्षा सूत्र को इंद्र की कलाई पर बांधा था जिससे इंद्र को युद्ध में विजय प्राप्त हुई थी। देवासुर संग्राम में भी देवी भगवती ने देवताओं की कलाई पर मौली बांधी थी। जिससे उन्हें भी युद्ध में विजय प्राप्त हुई थी। तभी से रक्षा सूत्र बांधने की यह पवित्र परंपरा चली आ रही है। कालांतर में यह परंपरा भाई-बहन के पवित्र रिश्ते के रूप में प्रसिद्ध हुई।

रक्षा बंधन की शायरी, Raksha Bandhan Shayari In Hindi

रक्षा बंधन, रक्षाबंधन की शायरी, रक्षाबंधन पर शायरी, राखी पर शायरी, रक्षाबंधन शायरी हिंदी में, रक्षाबंधन शायरियां, रक्षा बंधन पर बहन के लिए शायरी, रक्षा बंधन पर भाई के लिए शायरी, प्रेम बंधन शायरी, रखी पर भाई और बहन कि शायरी, रक्षाबंधन कोट्स, हैप्पी रक्षाबंधन, Raksha Bandhan, Happy Raksha Bandhan, Raksha Bandhan Shayari In Hindi, raksha bandhan shayari in hindi, Raksha Bandhan Hindi Wishes.

raksha bandhan shayari in hindi

रिश्ता हम भाई बहन का, कभी मीठा कभी खट्टा,
कभी रूठना कभी मनाना, कभी दोस्ती कभी झगडा,
कभी रोना और कभी हँसना,
यह रिश्ता है प्यार का, सबसे अलग सबसे अनोखा।

भैया तुम जियो हजारों साल,
मिले कामयाबी तुम्हें हर बार,
खुशियों की हो तुमपे बौंछार,
यही दुआ करते है हम बार बार।

सावन की रिमझिम फुहार है,
रक्षाबंधन का त्यौहार है,
भाई बहन की मीठी सी तकरार है,
ऐसा यह प्यार और खुशियों का त्यौहार है!
रक्षाबंधन की ढेर सारी शुभकामनाएँ

कलाई पर रेशम का धागा है,
बहन ने बड़े प्यार से बांधा है,
बहन को भाई से रक्षा का वादा है..!
रक्षाबंधन की शुभकामनाएं।

राखी का त्यौहार है,
हर तरफ खुशियों की बौंछार है,
बंधा एक धागे में भाई बहन का अटूट प्यार है!

राखी का त्यौहार है राखी बंधवाने को भाई तैयार है,
भाई बोला बहना मेरी अब तो राखी बांध दो,
बहना बोली “कलाई पीछे करो, पहले उपहार दो”

विश्वास का धागा, प्यार का धागा,
खुशियों का धागा, यादों का धागा,
दोस्ती का धागा, मन का धागा,
भाई की कलाई पर बहन ने प्रेम से बांधा।
रक्षाबंधन की बहुत-बहुत शुभकामनाएं!

ये लम्हा कुछ ख़ास हैं,
बहन के हाथों में भाई का हाथ हैं,
ओ बहना तेरे लिए मेरे पास कुछ ख़ास हैं,
तेरे सुकून की खातिर मेरी बहना,
तेरा भाई हमेशा तेरे साथ हैं!

सब से अलग हैं भैया मेरा,
सब से प्यारा है भैया मेरा,
कौन कहता हैं खुशियाँ ही सब कुछ होती हैं,
मेरे लिए तो खुशियों से भी अनमोल हैं भैया मेरा।
हैप्पी रक्षा बंधन 2019

चंदन का टीका रेशम का धागा,
सावन की सुगंध बारिश की फुहार,
भाई की उम्मीद बहना का प्यार,
मुबारक हो आपको 'रक्षा-बंधन' का त्योहार।
रक्षा-बंधन की हार्दिक शुभकामनाएं!

आप सभी को हमारी तरफ से रक्षाबंधन की हार्दिक शुभकामनाएं।

आशा है कि आपको यह पोस्ट पसंद आएगी, अगर आपको Raksha Bandhan Ki Hindi Shayari अच्छी लगी तो इन्हें अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें।